मंगलवार, 21 जनवरी 2020

जेपी नड्डा की राजनीति में एक अलग पहचान, जानिए एबीवीपी से लेकर पार्टी अध्यक्ष बनने तक का सफर


भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्षों का सफर और जेपी नड्डा जी के अध्यक्ष बनने का सफर

Www.clearknowledges.com

भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष के रूप में जेपी नड्डा यानी जगत प्रताप नड्डा मिल चुके हैं.



 लोकतांत्रिक पार्टी के रूप में भारतीय जनता पार्टी - 

 सभी पार्टियों में भारतीय जनता पार्टी एक ऐसी पार्टी है जो लोकतांत्रिक पार्टी है

 भारत देश मे बीजेपी ही ऐसी पार्टी है जिसके अध्यक्ष का चुनाव किया जाता है  इसमें मनोनीत नहीं किया जाता.


 जेपी नड्डा निर्विरोध जीत हासिल किए


 इस प्रकार 2020 में भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष का चुनाव हुआ जिसमें जेपी नड्डा ने निर्विरोध जीत हासिल की. 

बता दे कि एक स्तरीय पार्टियों में बीजेपी दुनिया की सबसे बड़ी पार्टी है. 

जिसका अध्यक्ष बनना जेपी नड्डा के लिए गौरव की बात तो है ही साथ ही साथ बहुत चुनौतीपूर्ण भी है. 


 बीजेपी की स्थापना के 40 वर्ष 


भारतीय जनता पार्टी 2020 में अपनी स्थापना के 40 वर्ष पूरा करने जा रही है. 

बीजेपी की स्थापना से लेकर आज इतनी दूर तक लाने में सभी बीजेपी अध्यक्ष की बहुत बड़ी भूमिका है.

 तो चलिए आज हम जानेंगे बीजेपी की स्थापना यानी 1980 से लेकर वर्तमान समय तक के अध्यक्षों के बारे में तथा जेपी नड्डा के जीवन के बारे में कैसे वो बीजेपी के अध्यक्ष बने?

 जेपी नड्डा


 जेपी नड्डा 20 जनवरी 2020 को अध्यक्ष पद के लिए नामांकन करने गए.

 किंतु अकेले नामांकन पत्र भरने और कोई व्यक्ति बीजेपी अध्यक्ष पद के लिए नामांकन पत्र नहीं भरा था. 

यही कारण है कि जेपी नड्डा जी निर्विरोध बीजेपी अध्यक्ष निर्वाचित हुए|
  बता दे की जेपी नड्डा को जून 2019 में बीजेपी का कार्यकारी अध्यक्ष के रूप में नियुक्त किया गया था.

 उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव के समय उत्तर प्रदेश का कार्यभार जेपी नड्डा को ही सौंपा गया था जिसमें उन्होंने भारी मतों से bjp  को जीत दिलाई थी|

पदस्थ
कार्यालय ग्रहण 
20 जनवरी 2020
पूर्वा धिकारीअमित शाह

पदस्थ
कार्यालय ग्रहण 
2012
चुनाव-क्षेत्रहिमाचल प्रदेश

पद बहाल
17 जून 2019 – 20 जनवरी 2020
पूर्वा धिकारीपद स्थापित

पद बहाल
9 नवम्बर 2014 – 24 मई 2019
प्रधानमंत्रीनरेन्द्र मोदी
पूर्वा धिकारीडॉ. हर्षवर्धन

जन्म2 दिसम्बर 1960 (आयु 59)
पटना, बिहार
राष्ट्रीयताभारतीय
राजनीतिक दलभारतीय जनता पार्टी
जीवन संगीडॉ. मल्लिका नड्डा
बच्चे2
धर्महिन्दू

जेपी नड्डा का जीवन परिचय


 जेपी नड्डा जी का  जन्म पटना में 1960 मे  हुआ था. B.a और एलएलबी की डिग्री इन्होंने पटना से ही प्राप्त की थी. शुरू से ही वे एबीवीपी से जुड़े हुए थे. 


राजनितिक जीवन 


वे पहली बार 1993 में हिमाचल प्रदेश से विधायक चुने गये थे. उसके बाद वे राज्य और केंद्र में मंत्री भी रहे हैं.

वे 1994 से 1998 तक विधानसभा में पार्टी के नेता भी रहे.
इसके बाद वे दुबारा 1998 में फिर विधायक चुने गये. इस बार उन्हें स्वास्थ्य और संसदीय मामलों का मंत्री बनाया गया.
2007 में उन्हें फिर से चुनाव जीतने का अवसर मिला और प्रेम कुमार धूमल की सरकार में उन्हें वन-पर्यावरण, विज्ञान व टेक्नालॉजी विभाग का मंत्री बनाया गया.

2012 में जेपी नड्डा को राज्यसभा का सांसद चुना गया. उन्हें मोदी सरकार में स्वास्थ्य मंत्रालय दी गई

20 जनवरी 2020 को उन्हें भारतीय जनता पार्टी का अध्यक्ष नियुक्त किया गया।

पार्टी अध्यक्षों की सूची

भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष दल के प्रमुख होते हैं.

 पहलेअध्यक्ष पद पर नियुक्ति दो सालों के लिए हुआ करती थी और लगातार दो सत्रों तक हो सकती थी।

 इस नियम को बदल दिया गया है अब 3 साल तक और  लगातार दो सत्रों तक एक व्यक्ति अध्यक्ष पद पर रह सकता है

पार्टी अध्यक्ष राजनाथ सिंह के नेतृत्व में २०१४ में देश में प्रचंड विजय हासिल की और सरकार बनाने में सफल हुई।

 और दोबारा २०१९ में अमित शाह के नेतृत्व में सफलता पाई।

██  ये व्यक्ति एक से अधिक समय तक अध्यक्ष रह चुके है

क्रअध्यक्षचित्रजीवनकालअध्यक्षपद का काल
अटल बिहारी वाजपेयीAb vajpayee.jpg१९२४-२०१८१९८०-८६
लालकृष्ण आडवाणीLkadvani.jpg१९२७-१९८६-९१
मुरली मनोहर जोशीMurli Manohar Joshi MP.jpg१९३४-१९९१-९३
(२)लालकृष्ण आडवाणीLkadvani.jpg१९२७-१९९३-९८
कुशाभाऊ ठाकरे१९२२-२००३१९९८-२०००
बंगारू लक्ष्मण१९३९-२००४२०००-०१
जन कृष्णमूर्तिJana Krishnamurthi.JPG१९२८-२००७२००१-०२
वेंकैया नायडूVenkaiah Naidu official portrait.jpg१९४९-२००२-०४
(२)लालकृष्ण आडवाणीLkadvani.jpg१९२७-२००४-०६
राजनाथ सिंहRajnath.jpg१९५१-२००६-०९
नितिन गडकरीNitin Gadkari 1 (cropped).JPG१९५७-२००९-१३
(८)राजनाथ सिंहRajnath.jpg१९५१-२०१३-१४
१०अमित शाहAmit shah official portrait.jpg१९६४-२०१४-पदस्थ

Source -wikipedia 


0 टिप्पणियाँ:

टिप्पणी पोस्ट करें

Thanks for comments